विभाजन काल का मुक़म्मल दस्तावेज है – “पाकिस्तान मेल”

pakistan-mail-book-review

मैंने बहुत ज्यादा किताबें पढ़ी भी नहीं है और जो पढ़ी हैं उनमें 4-5 किताबों ने मुझे खासा प्रभावित किया है । उन्हीं 4-5 में से एक है – पाकिस्तान मेल । लेखक, पत्रकार खुशवंत सिंह की ‘ट्रेन टू पाकिस्तान’ का सुप्रसिद्ध लेखिका उषा महाजन ने बेहतरीन हिंदी अनुवाद किया है । Continue reading “विभाजन काल का मुक़म्मल दस्तावेज है – “पाकिस्तान मेल””

प्यार में कभी कुछ भी गंदा नहीं होता

ganddi baat

अगर आप पढ़ने के शौकीन हैं तो आते जाते रास्ते में टाइमपास के लिए कभी कोई पत्रिका या नॉवेल जरूर पढ़ा होगा, मैंने भी बहुत बार ऐसा साहित्य पढ़ा है। Continue reading “प्यार में कभी कुछ भी गंदा नहीं होता”