अटल जी की 5 प्रसिद्ध कविताएँ

hindi-poetry-of-atal-ji

अटल जी कहते थे, “मेरी कविता जंग का एलान है, यह पराजय की प्रस्तावना नहीं | वह हारे हुए सिपाही का नैराश्य-निनाद नहीं, जूझते यौद्धा का जय संकल्प है, वह निराशा का स्वर नहीं, आत्मविश्वास का जयघोष है |” अटल जी ने अपने जीवन काल में कई कविताएं लिखीं | प्रस्तुत है उनकी कविता संग्रह ‘मेरी इक्वावन कविताएं’ से 5 प्रसिद्ध कविताएँ | Continue reading “अटल जी की 5 प्रसिद्ध कविताएँ”

पाल वाली नाव (भाग – 02)

sailing-boat- vicharbindu
पोखर से पूरबारी बाध की तरफ जाने के लिए मैंने फोरी में नाव को डाल दिया जिसकी चौड़ाई तकरीबन तीस फीट थी। दोनों तरफ खरही लगे हुए थे जिस का कुछ भाग पानी में तो कुछ भाग पानी से ऊपर था।

Continue reading “पाल वाली नाव (भाग – 02)”

पाल वाली नाव (भाग – 01)

sailing-boat vicharbindu

मैं नाव के अगले माईन पर बैठा था और मेरी नजरें जलकुंभी के फूलों पर टिकी थी जो धीरे-धीरे मेरे पास आती जा रही थी । करमी के फूलों की पृष्ठभूमि में उसकी खूबसूरती और बढ़ गई थी। Continue reading “पाल वाली नाव (भाग – 01)”

रामधारी सिंह दिनकर – कुरुक्षेत्र

dinkar रामधारी सिंह दिनकर का जन्म : 23 सितम्बर 1908 को बिहार के मुंगेर जिला के सिमरिया में हुआ था । दिनकर जी वीर रस के सर्वश्रेष्ठ कवि के रूप में प्रख्यात हुए । इन्हें पद्मभूषण, साहित्य अकादमी तथा भारतीय ज्ञानपीठ पुरस्कार से नवाजा गया । आईये पढ़ें इनके काव्य “कुरुक्षेत्र” का कुछ अंश जिसमें इन्होंने युद्ध को क्रूर कर्म बताया है । Continue reading “रामधारी सिंह दिनकर – कुरुक्षेत्र”

पांडव का संदेश – रामधारी सिंह दिनकर

ramdhari shingh dinkar  प्रिय पाठकों प्रस्तुत है रामधारी सिंह “दिनकर” की ए रचना……..

“वर्षों तक वन में घूम-घूम, बाधा-विघ्नों को चूम-चूम,

सह धूप-घाम, पानी-पत्थर, पांडव आये कुछ और निखर। Continue reading “पांडव का संदेश – रामधारी सिंह दिनकर”

दुष्यंत कुमार

Dusyant kumarमित्रों प्रस्तुत है, दुष्यंत कुमार की लोकप्रिय प्रेरणात्मक कविताएँ ……… ” हो गई है पीर- पर्वत सी । कुछ भी बन बस , कायर मत बन । और ये जो शहतीर है ।

 “सिर्फ हंगामा खड़ा करना मेरा मकसद नहीं,                                                                  सारी कोशिश है, कि ए सूरत बदलनी चाहिए।”

Continue reading “दुष्यंत कुमार”

मशहुर शायरियाँ और शायर

Rose Vicharbindu

प्रिय पाठकों प्रस्तुत है, दुनियां के मशहुर शायरों की प्रेरणात्मक शायरियाँ …जिनमें मिर्ज़ा ग़ालिब, मोहम्मद इक़बाल, अकबर इलाहाबादी, मुनव्वर राणा, बशीर बद्र, अहमद फ़राज, जौहर, अख्तर अंसारी, बहज़ाद लखनवी, फ़िराक, गुलज़ार…इत्यादि शायरों की शायरियाँ….

Continue reading “मशहुर शायरियाँ और शायर”