Skip to main content

बहस ! एक चाय वाले से तीन रूपया के लिए

chai waale se bhas

ऊपर वाले बर्थ पर लेटा हुआ था । चाय बेचने वाला आया और मैंने एक चाय की आर्डर कर दी । पिछले एक साल से रेलवे में सफ़र करते हुए 10 रूपया का नोट निकाल कर देने की आदत हो गयी थी तो दे दिया । फिर.. (more…)

Read More

तत्काल टिकट से भी जल्दी बिक रहा जियोमी रेडमी 4

features-of-redmi-4-in-hindi

Amazon.com और Mi.com के जरिये अपने लॉन्चिंग के दिन सिर्फ चार मिनट में रेडमी 4 के 2,50,000 ( दो लाख पचास हजार ) यूनिट बिके हैं। इसके साइट – वाइड आर्डर में 1500 हीट प्रति सेकेण्ड तथा 5 मिलियन हिट प्रतिमिनट की वृद्धि हुयी है । आईये जाने हिंदी में जियोमी रेडमी 4 के features  (more…)

Read More

छोटकी भौजी !!

chotki bhouji vicharbindu आमतौर पर मेरा दिल्ली से प्रेम का एक वजह आप मेट्रो का होना कह लिजिये । इसने इस घुम्मकर किस्म के इन्सान को एक ठौर दिया । और समझ लीजिये उसे और घुमने के लिए उकसाने का भी काम किया । कोई 10 बजे सुबह का समय रहा होगा । (more…)

Read More

आर्केस्ट्रा और ताक झांक !

aakestra vicharbinduस्टेज सज ही रहा था । साउंड बॉक्स लाइट और म्यूजिकल इंस्ट्रूमेंट लगाया जा रहा था । स्टेज के आगे युवाओं की भीड़ जमने शुरू हो गए थे । कुछ लोग इधर उधर टहल रहे थे । कुछ आपस में बात कर रहे थे और कुछ युवा इधर उधर बैठ आर्केस्ट्रा के शुरू होने का इंतजार कर रहे थे । (more…)

Read More

बादल, बारिश और उसकी उन्मुक्तता ।

बादल, बारिश और उसकी उन्मुक्तताअशोक के पेड़ के झुरमुट से उसकी खिड़की झाँकती है । जब भी आसमान में काले बादल छाते, तो वो खिड़की के कोने से आसमान को निहारने आ जाया करती । यूँ लगता है जैसे काले बादल के उन्मुक्तता को…. (more…)

Read More

मानने से क्या होता है, बेटा तो चाहिये

believeबातचीत की शुरूआत मैंने ही की थी । सप्ताह भर का साथ, हमेशा मुस्कुराता हुआ चेहरा और मेरे चुहलपन ने एक नाता सा जोड़ दिया था । दोपहर में फुर्सत के क्षण में साथ बैठे तो मेरे मन में यूँ ही.. (more…)

Read More

बचपन का भोलापन और पापा का डर

avinash bharatdwaj profile picसब कुछ सही था । हम अपने धुन में खोये हुए जयपुर के प्रसिद्ध किले  को देखने जा रहे थे । रास्ते में बाइक पर पीछे बैठ कर जल महल को देखने का आनंद कुछ अलग ही तरीके का होता है, तो मैं उस आनंद के सागर में गोते लगा रहा था । गुलाबी सर्दी पुरे….

(more…)

Read More

अपना हर पल हर पहर विश्वास से जियें ।

lord krishna

प्रिय पाठकों प्रस्तुत है । श्री कृष्ण वासुदेव के उपदेश जिसमें श्री कृष्ण जीवन के सार्थकता के विषय में कहते हैं । अपना हर पल हर पहर विश्वास से जियें । (more…)

Read More