Warning: Class __PHP_Incomplete_Class has no unserializer in /home/content/n3pnexwpnas02_data02/83/3645783/html/wp-content/object-cache.php on line 894
MITHILA Archives - Vicharbindu.com Skip to main content

हम मिथिला के विकास के लिये माँगते हैं ।

we beg for the devlopment of Mithila.अब कानों को सुनने से तो नहीं रोक लीजिएगा, तो हमने भी सुन लिया । यूं ही चलते चलते कोई कह रहा था कि हम मांगते हैं । जी हाँ पैसा । जब कानों ने सुन ही लिया तो दिल और दिमाग पर क्या बिता होगा वह तो पता नहीं लेकिन बता दूं… (more…)

Read More

एक पत्र ! मिथिला के यूवाओं के नाम ।

MSU_aashजिंदाबाद साथियों ! नववर्ष कि मंगलमय शुभकामनाओं के साथ ! मिथिला स्टूडेंट यूनियन आप सबों के स्वर्णिम भविष्य की कामना करती है । साथियों हमारे विश्वविद्यालय में व्याप्त कुव्यस्था पर विशेष प्रकाश डालने की आवश्यकता नहीं है । सब कुछ प्रत्यक्ष है ….प्रमाण क्या दूँ ! (more…)

Read More

मैथिल बुद्धिजीवीयों की विडम्बना !

double stander of maithil mentorsभूख, कुपोषण, दरिद्रता , पलायन  एवं बेरोजगारी से  त्रस्त मिथिला के लिए नए आशा का संचार करने वाली…!  मिथिला क्षेत्र की दुर्दशा को मुद्दा बनाकर मिथिला के जनमानस में पहचान बनाने वाली संगठन…. (more…)

Read More

चट्टानी एकता जरूरी है मिथिला के विकास के लिए !

Mithila_Map-2आज यह सवाल उठता है कि हम पिछड़े क्यों ? पूरे विश्व की सबसे उपजाऊ मिटटी बंजर कैसे हो गई ? पलायन घर घर की कहानी कैसे बन गई ? हमारे मां, बाप, भाई, बहन की आंखें रेलवे स्टेशन को….

(more…)

Read More

मिथिला आंदोलन – PART 2

mithila_mapबचपन से ही हमें समझाया जाता है कि जब तक तुम्हारे पास कोई रोड मैप नहीं होगा तब तक तुम कोई काम नहीं कर सकते हो | हम भी तो यही आजतक समझते रहे और इसी पर अमल कर अपने भविष्य का निर्धारण करते हैं लेकिन जब से हमने मिथिला के विकास के झंडे को बुलंदी से उठाया है, तब से हम इसी रोड मैप को ढूंढ रहे हैं

(more…)

Read More

हवालात के अन्दर से…

MSU galleryसामाजिक कार्य करते हुए अगर आपको पुलिस पकड़ कर हवालात में बंद करती है, और हवालात के बाहर कोई आपके समर्थन में नहीं दिखता है तो ये कमी हमारी है । हमें खुद को एक सामाजिक कार्यकर्ता कहने में शर्म आती है । जी हाँ जब… (more…)

Read More

बाबाक संस्कार ……

old man VBCश्री हरिमोहन झा की रचना जो मैथली में है । (बाबाक संस्कार) मैथली साहित्य की अत्यंत प्रचलित रचना है । जिसमें समाज का वास्तविक स्वरूप को प्रतिबिम्बित कर व्यंग किया गया है । पढिये इस कथा का हिंदी अनुवाद ! (more…)

Read More

महाकवि विद्यापति ठाकुर

Vidyapati VBCमैथली कवि कोकिल विद्यापति ठाकुर का जन्म 1360 ई० में बिहार के मधुबनी जिला के बिसपी ग्राम में हुआ । श्रृंगार और भक्ति रस के कविता के बीच संतुलन स्थापित करने वाले विद्यापति एक महान रचनाकार थे । इन्हें अनेक उपाधि प्राप्त है । जैसे – अभिनव जयदेव, कविशेखर, कवि कंठहार, कविरंजन, कवि कोकिल आदि …. (more…)

Read More