सुबह सवेरे कैसे उठें ?


image of alarm clock
सुबह सवेरे उठने के लिये हम पूरी कोशिश करतें हैं लेकिन कहाँ हो पाता है वो भी आज के दौर में जहाँ रात-रात तक जग कर Internet, Facebook एवं Whatsapp

में लगे रहना आम बात है. ताजगी से भरी सुबह का आनंद न लेना पुरे दिन को तनावपूर्ण बिताने के बराबर होता है. आईये जाने क्यों उठें सवेरे और कैसे ?


कब और कैसे सोते हैं आप ?

सवेरे उठने के लिए रात ठीक से बीतना बहुत ज़रूरी है. रात में बिना नींद टूटे सोने का बहुत महत्व है, इसलिए सोने की स्थिति को ठीक  करना महत्वपूर्ण है. यदि हमारी नींद रात में कभी भी टूटती है तो फिर अगली बार नींद देर खुलने की आशंका बढ़ जाती है. Early to Bed and Early to Rise वाली कविता आपने बचपन में पढ़ा ही होगा, इसको अमल में लायें. रात को जल्दी सो जाना चाहिए क्योंकि देर से नींद होगी तो तय है की नींद देर ही खुलेगी.


 भोजन  मायने रखता है

रात का खाना हो या फिर दिन का दोनों ही नींद के लिए महत्वपूर्ण है, यदि भोजन आपने शरीर या मष्तिस्क के हिसाब की नहीं करेंगे तो रात को ये आपके अंदर हलचल मचाएगी. जिससे आपकी नींद खराब हो सकती है और नींद ठीक तरह से न होने के कारण आप उठने में देर कर सकतें हैं. रात का खाना हल्का लें क्योंकि ज्यादा खाना देर से पचता है और भूख भी देर से ही लगती है. इस समय यदि आप हल्का खाना लेतें हैं तो सुबह जल्दी भूख लगने की सम्भावनाएं बढ़ जायेगी और ये सवेरे उठने में मददगार साबित हो सकती है.


फ़ोन को स्विच ऑफ कर दें

अधिकांशत: ऐसा देखा जाता है की लोग देर रात तक Facebook और Whatsapp में लगे रहते हैं. एक-एक नोटिफिकेशन चेक करना उनकी आदत हो जाती है. फिर धीरे-धीरे ऐसा नशा सा छाने लगता है, जो बहुत ही खतरनाक है. आप सोने से पहले अपने फ़ोन को स्विच ऑफ कर दें तो आप समय पर उठ सकते हैं. और पूरे दिन खुद को तरो-ताज़ा महसूस कर सकते हैं.

Must Readपढ़ें सुबह सवेरे उठने के फ़ायदे


 क्या आप अच्छे नींद के लिए नशा करते हैं

यदि आप नशा करतें हैं या सोचतें हैं की रात को नशा करने से नींद अच्छी आएगी तो ये गलत है. परिणाम बिल्कुल विपरीत है, ये आपको पेट से लेकर दिमाग तक को नशा में बाँध कर हलचल मचाती रहेगी और नींद को ठीक से होने नहीं देगी. इसलिए नशे से दूर रहें तो अच्छा.

Must Readसम्मान करें,अपनी सृजनहार का


 सोने से 1 घंटे पहले भोजन करें

रिसर्च में ऐसा मन गया है। की सोने से 1 घंटे पहले भोजन कर लेने से पाचन में कोई समस्या नहीं होती. और नींद भी शानदार आती है.


 अभ्यास तो करना ही चाहिए

किसी भी महत्वपूर्ण चीज़ को हासिल करने के लिये, हमें अभ्यास और प्रयास करना होता है. इस प्रकार जबतक हम सवेरे उठने के लिए कुछ दिन प्रयास नहीं करेंगे तबतक कैसे नियमित होंगे. यदि हम शुरुआत में इस अभ्यास को करने में सफ़ल होतें हैं तो आगे परेशानी नहीं होगी.


 अलार्म लगायें

यदि आप सवेरे उठने के लिए तत्पर हैं तो “अलार्म” आपकी मदद करेगा. हालांकि जब हमारी नींद चरम पर होती है तो ये अलार्म ख़ास असर नहीं करती मग़र जब हमारा प्रयास होता है और इसकी आदत के लिए एक बदलाव करने की चेष्टा करतें हैं तो इस माध्यम के प्रयोग से सफल हो सकते हैं.


सुबह में कोई काम ढूंढे

सुबह का कार्य काफ़ी महत्वपूर्ण होता है और सुबह के काम ज्यादातर हमारे उद्देश्य को सफ़ल बनाती है. यदि प्रतिदिन हम सुबह में किसी न किसी काम की ओर ध्यान लगातें हैं तो सवेरे उठने के लिए हमारी इच्छा को बढ़ाता है. बच्चों के लिये पढ़ाई काफ़ी कारगर होती है, सुबह की हवा और वातावरण हमारे बुद्धि और पढने की इच्छा को भी जगाता है. जिससे की विषय को याद रखने की भी क्षमता भी बढ़ती है. इसी तरह योगा, अभ्यास और अन्य मुख्य कार्य करने की आदत हमें प्रेरित करती है सुबह सवेरे उठने के लिये.

Previous साहस से सफलता तक
Next बाबा विद्यापति और इनकी एक रचना- जय जय भैरवी ।

1 Comment

  1. Chandan Yadav
    July 3, 2017
    Reply

    Very good.hme padhne ka time table chahiye

Leave a reply

Your e-mail address will not be published. Required fields are marked *