14 मई – विश्व मातृ दिवस

विश्व मातृ दिवस विशेषांक में कवि, लेखक व पूर्व आईपीएस अधिकारी “ध्रुव गुप्त” जी का आलेख  “सुख की छाया तू दुख के जंगल में !” मां दुनिया की किसी भी भाषा का सबसे मुलायम और खूबसूरत शब्द है। हमारा पहला प्यार मां ही होती है। हम उसके रक्त, अस्थियों, भावनाओं और आत्मा के हिस्से हैं। … Continue reading 14 मई – विश्व मातृ दिवस