Skip to main content

शिक्षा के अलख से नोबेल शांति पुरस्कार तक का सफ़र……..

malala yousafzaiप्रिय पाठकों प्रस्तुत है, मलाला युसुफ़जई का संछिप्त जीवन परिचय, मलाला का जन्म 12 जुलाई 1997 को हुआ और 12 जुलाई 2013 को सबसे कम उम्र 17 वर्ष की अवस्था में नोवेल शांति पुरस्कार विजेता बनी । आयिए जाने शिक्षा के अलख से नोवेल शांति पुरस्कार तक का सफ़र………… (more…)

Read More

वसंत पंचमी

downloadप्रिय पाठकों वसंत का आगमन हो गया है, सरस्वती पूजा का आगमन एवं होली का दस्तक सदिओं से युवाओं को उत्साहित करता आ रहा है । तो आईये जाने वसंत ऋतू एवं माँ सरस्वती पूजन के महात्म्य को …….. (more…)

Read More

महान गणितज्ञ पाईथागोरस महोदय के प्रेरणात्मक विचार …….

pythagorasप्रिय पाठकों प्रस्तुत है , एक महान गणितज्ञ , रहस्यवादी एवं वैज्ञानिक जिन्होंने ज्यमिति में एक प्रमेय की स्थपना की   ( p² + b² = h² ) जिसे पाईथागोरस प्रमेय कहा जाता है । के खोजकर्ता पाईथागोरस महोदय के प्रेरणात्मक विचार ……..

 “ क्रोध की शरुआत गलती से होती है और अंत प्रायश्चित से ”  – पाईथागोरस
(more…)

Read More

आहत होती भावनाएँ …!

sad childप्रिय पाठकों यह लेख एक बच्ची और उसके परिवार से संबंधित है , यह एक हक़ीकत घटना है , कोलकाता के साल्ट लेक क्षेत्र के एक अंग्रेजी मीडियम स्कूल की , जिसमें परीक्षा में ‘माय फैमली’ शीर्षक पर एक निबंध लिखना था  । 10 साल की पांचवी कक्षा की एक बच्ची ने अपने ही परिवार की हक़ीकत को निबंध में लिख डाली । उसने अपने काँपी में लिखा है……… (more…)

Read More

मैडम मैरी क्यूरी

Marie Curieप्रिय पाठकों प्रस्तुत है, मैडम मैरी क्यूरी के प्रेरणात्मक विचार । महान वैज्ञानिक मैडम क्यूरी एक रसियन मूल की महिला थी, जिन्होंने 1898 में अपने पति के साथ मिल कर रेडियम और पोलोनियम का आविष्कार की थी, रेडियोएक्टिविटी की खोज के लिए इन्हें 1903 में नावेल पुरस्कार भी मिला । तो आईये जाने इनके प्रेरणात्मक विचार …….

जन्म : 7 नवम्बर 1867 एवं अवसान : 4 जुलाई 1934 

(more…)

Read More

एपिकुरूस महोदय के प्रेरणात्मक विचार

epicurusप्रिय पाठकों प्रस्तुत है, यूनानी दार्शनिक एपिकुरूस महोदय के विचरों का संग्रह, इनका जन्म : 341 BC अवसान : 270 BC , ये आनंदवाद के संस्थापक थे । इस पर इन्होंने तकरीबन 300 पृष्ठ लिखें होंगे, जिनमे कुछ पत्र ही बचे हुए हैं । इन्होंने एपिकुरिज्म स्कूल की स्थापना भी की थी । (more…)

Read More

तराना-ए-हिन्द के शायर मोहम्मद इक़बाल

muhammad iqbal प्रिय पाठकों प्रस्तुत है, आधुनिक उर्दू और फारसी साहित्य को एक नया मुकाम, एक नई जिन्दगी, एक नई रोशनी देने वाला कवी और ‘तराना-ए-हिन्द’ का शायर,  मोहम्मद  इक़बाल , इन्होंने कहा, “कुछ बात है की हस्ती मिटती नहीं हमारी”   (more…)

Read More

प्लेटो महोदय के प्रेरणात्मक विचार

प्रिय मित्रों प्रस्तुत है, यूनान के प्रसिद्ध दार्शनिक प्लेटो महोदय के प्रेरणात्मक विचार । प्लेटो महोदय महान दार्शनिक सुकरात के शिष्य थे । एवं अरस्तु के गरु । इन तीनों दार्शनिकों ने पश्चिमी संस्कृति का धार्मिक आधार तैयार किया ।   प्रेम एक गंभीर मानसिक रोग है।”प्लेटो 

(more…)
Read More

दुष्यंत कुमार

Dusyant kumarमित्रों प्रस्तुत है, दुष्यंत कुमार की लोकप्रिय प्रेरणात्मक कविताएँ ……… ” हो गई है पीर- पर्वत सी । कुछ भी बन बस , कायर मत बन । और ये जो शहतीर है ।

 “सिर्फ हंगामा खड़ा करना मेरा मकसद नहीं,                                                                  सारी कोशिश है, कि ए सूरत बदलनी चाहिए।”

(more…)

Read More

मशहुर शायरियाँ और शायर

Rose Vicharbindu

प्रिय पाठकों प्रस्तुत है, दुनियां के मशहुर शायरों की प्रेरणात्मक शायरियाँ …जिनमें मिर्ज़ा ग़ालिब, मोहम्मद इक़बाल, अकबर इलाहाबादी, मुनव्वर राणा, बशीर बद्र, अहमद फ़राज, जौहर, अख्तर अंसारी, बहज़ाद लखनवी, फ़िराक, गुलज़ार…इत्यादि शायरों की शायरियाँ….

(more…)

Read More