प्रेम में स्वतंत्रा क्यों ?

प्रिय पाठकों प्रस्तुत है । श्री कृष्ण वासुदेव के उपदेश जिसमें उन्होंने प्रेम की स्वतंत्रा के विषय में आपना विचार प्रस्तुत करते हैं । प्रेम में स्वतंत्रा क्यों ? तनिक सोचिये, यदि जल को मुट्ठी में कस के बांधे तो जल कैसे अपना मार्ग बना कर निकल जाता है । इसी तरह धारा की भांति, यही

शक्ति के साथ अच्छे गुणों का विस्तार आवश्यक

चंद्रमा की दो संताने थी । एक पुत्र – पवन और दूसरी पुत्री – आंधी । एक दिन एक छोटी सी घटना पर पुत्री आंधी को यह लगा कि मेरे पिताजी सांसारिक पिताओं की तरह पुत्र व पुत्री में भेद करते हैं । चन्द्रमा अपनी पुत्री की व्यथा को ताड़ गये । उन्होंने पुत्री को आत्म निरिक्षण का एक

सेंट थॉमस एक्विनास महोदय के प्रेरणात्मक विचार

प्रिय पाठकों प्रस्तुत है । 13 वीं शताब्दी के महान दार्शनिक, महान राजनीतिक विचारक और समन्वयवादी विद्वान “सेंट थॉमस एक्विनास” महोदय के प्रेरणात्मक विचार । इनका जन्म 28 जनवरी 1225 को और अवसान 7 मार्च 1274 को हुआ था । इनका मानना है कि धर्म-विज्ञान ही सर्वाच्च ज्ञान है जो ज्ञान की अन्य शाखाओं – नीतिशास्त्र, राजनीतिशास्त्र तथा अर्थशास्त्र को

योग करो निरोग रहो Yoga Aasans aur Poses in Hindi

तनाव भरी जीवन शैली में अगर आप कुछ समय निकालकर योग (Yoga Aasans aur Exercise) करते हैं, तो शरीर में दिन भर उर्जा (Energy) बरकरार रख सकते हैं । आपका स्टैमिना बढ़ता है, शरीर लचीला और मजबूत बनता है । स्फूर्ति बनी रहती है,  और आप स्वस्थ रहते हो । पढ़ें : योग करो निरोग रहो !

विश्वास करना है तो पहले अविश्वास करने के विज्ञान को जानें ।

 प्रिय पाठकों प्रस्तुत है । वासुदेव श्री कृष्ण के प्रेरणात्मक विचार । मनुष्य अपना जीवन विश्वास पर जीता है । परन्तु विश्वास किसका तनिक सोचिये किस पर विश्वास है आपको – महापुरुषों के कही बातों पर,  ग्रंथो में लिखे ज्ञान पर,  माता-पिता की सीख पर  या मेरी कही बातों पर  ये सब विश्वास अपूर्ण हैं । 

आईज़ैक असिमोव महोदय के प्रेरणात्मक विचार

प्रस्तुत है, बोस्टन विश्वविद्यालय में जैव-रसायन के प्रोफेसर, और लेखन के क्षेत्र में सर्वाधिक कार्य करने वाले अमेरिकी लेखक “आइजैक असिमोव” के प्रेरणात्मक विचारों का संग्रह । इन्हें विज्ञान की लोकप्रिय किताबों के लिए जाना जाता है । इनका जन्म 2 जनवरी 1920 में और अवसान 6 अप्रेल 1992 को हुआ ।

माइकल एंगेलो महोदय के प्रेरणात्मक विचार

प्रिय पाठकों प्रस्तुत है । महान मूर्तिकार, चित्रकार, आर्किटेक्चर और कवि माइकल एंगेलो का प्रेरणात्मक विचार । इनका जन्म इटली के फ्लोरेंस में 6 मार्च, 1475 को हुआ था । वेस्टर्न आर्ट के विकास में इनकी अहम् भूमिका रही है । “अंतिम न्याय”  एवं  “मानव का पतन” नामक इनका कलाकृति  बहूत ही प्रचलित है । आईये जाने

प्रेरणात्मक कथा – माँ के आँसू ….!

प्रिय पाठकों प्रस्तुत है, एक प्रेरणात्मक कथा । माँ के आँसू –  यह उसकी अपनी माँ से अंतिम मुलाकात थी, हालाँकि तब उसे इस बात का इल्म नहीं था । वह शहर लोटते समय माँ से विदाई ले रहा था, तो माँ फुट-फुट कर रो पड़ी थी । वह लगातार रोए जा रही थी । उसे थोड़ा आश्चर्य

जटिल प्रश्न , सरल जबाब ( स्वामी विवेकानंद )

 एक विदेशी महिला ने विवेकानंद से कहा – मैं आपसे शादी करना चाहती हूँ”। विवेकानंद ने पूछा- “क्यों देवी ? पर मैं तो ब्रह्मचारी हूँ”। महिला ने जवाब दिया -“क्योंकि मुझे आपके जैसा ही एक पुत्र चाहिए, जो पूरी दुनिया में मेरा नाम रौशन करे और वो केवल आपसे शादी करके ही मिल सकता है मुझे”।

होलीका, होली, रंग और हम….

प्रिय पाठकों प्रस्तुत है, होली के पर्व पर विशेषांक । भारतीय परम्पराओं में होली का अपना एक अलग ही महत्व है । जाती धर्म से ऊपर उठ कर भारतीय लोग इस पर्व को समरसता पूर्वक मनाते हैं । वास्तविकता तो यह है की यह पर्व हमें प्रेम करना सिखाता है । आगे..
error: Content is protected !!