मन में उमड़ता यादों का सावन

डायरी के पन्नों से  – ‘मन में उमड़ता यादों का सावन’, विश्व साहित्य से लेकर अपने लोक भाषा के साहित्य में रूचि रखने वाले बालमुकुन्द एक समीक्षक, आलोचक, कवि एवं प्रेम से भींगे हुए इंसान हैं । और ये इंसान जब कभी प्रेम की बात लिखता है तो लगता है कि कहानी का सारा किरदार बिखरकर

बारिश और बेपरवाह !

Baarish or Beparwah आज सुबह से ही मौसम काफ़ी अच्छा था, घर से ऑफिस के लिए अभी निकला ही था कि बारिश शुरू हो गयी, सामने एक मकान था तो फटफटिया खड़ा कर छज्जे के नीचें शरण लिया, काफ़ी देर तक 

लघुकथा – संगीत का ज्ञान ।

यह बुद्ध के जीवन से सम्बंधित कहानी है । एक दोपहर को जब बुद्ध ध्यानमग्न थे । पास- पड़ोस से बहुत सारी आवाजें आ रही थीं । एक संगीतकार किसी दूसरे संगीतकार से बातचीत कर रहा था ।

बाबा विद्यापति और इनकी एक रचना- जय जय भैरवी ।

एक रचनाकार अपने जीवन काल मे अनगिनत रचना करता है । जिसमे से मात्र कुछ ही रचना लोकप्रिय हो पाती है और साथ ही रचनाकार को प्रसिद्धि दिला पाती है , अपवाद स्वरूप मात्र कुछ ही ऐसे रचनाकार है जिन्होने मात्र कुछ रचना की और उसी से प्रसिद्ध हुए ।

सुबह सवेरे कैसे उठें ?

सुबह सवेरे उठने के लिये हम पूरी कोशिश करतें हैं लेकिन कहाँ हो पाता है वो भी आज के दौर में जहाँ रात-रात तक जग कर Internet, Facebook एवं Whatsapp में लगे रहना आम बात है । ताजगी से भरी सुबह का आनंद न लेना पुरे दिन को तनावपूर्ण बिताने के बराबर होता है । आईये

साहस से सफलता तक

मानव जाति के इतिहास में जो अंश पठनीय है, वे साहस की ही कहानियों से भरे पड़े हैं । अनेकों वीरों ने असंभव को संभव कर दिखाया था आम आदमी जिन मुसीबतों का सामना करने से डरते थे, उन वीरों ने उनका सामना किया और विजय प्राप्त की । संसार ने उन्हें आदर्श माना । जैसे..

मैं अपने घर का बादशाह हूँ

उपन्यास सम्राट प्रेमचंद अत्यंत स्वाभिमानी प्रकृति के व्यक्ति थे । उन्होंने तत्कालीन ब्रिटिश सरकार द्वारा प्रस्तावित राय साहब की उपाधि लेने से इनकार कर दिया था, और कहा था । “मैं जनता का लेखक हूं, और जनता के लिए ही लिखते रहना चाहता हूं । रायसाहब बनने के बाद मुझे सरकार के लिए लिखना पड़ेगा

स्टीव जॉब्स महोदय के प्रेरणात्मक विचार Steve Jobs’s Inspirational Thoughts in Hindi

 प्रस्तुत है सफ़ल उद्योगपति स्टीव जॉब्स महोदय का संछिप्त जीवन परिचय और प्रेरणात्मक विचारों का संग्रह । स्टीव जॉब्स दुनियां के सबसे महत्वपूर्ण कम्पनी एपल के सह-संस्थापक थे, जिनका जन्म 24 फरवरी 1955 को हुआ था  
error: Content is protected !!