नया लेख

सुकरात ग्रीस के एक बहूत बड़े चिन्तक व दार्शनिक थे. वे तर्कशास्त्र के प्रणेता थे. सही मायने में वे  बड़े राजनीतिज्ञ  थे. इनका  जन्म  470 BC में एथेंस में हुआ था । 399 BC में उन्हें मृत्यु दंड दिया गया और वे संसार को अंतिम विदा कह गये.

महान दार्शनिक Aristotle / अरस्तु महोदय का जन्म 384 BC और अवसान 322 BC में हुआ था ये ग्रीक साम्राज्य के रहने वाले थे, ये प्लेटो के शिष्य थे, सिकंदर के गुरु एवं पश्चिमी दर्शनशास्त्र के महान व्यक्ति थे.

हम सभी जानते है की सर्दी के महीनों में सबसे ज़्यादा संक्रमण वायरस और बैक्टीरिया से होता है, क्योंकि ये मौसम उनके संवहन के लिए सबसे अनुकूल होता है.

साहित्य

साहित्यिक गतिविधियाँ तथा पुस्तक चर्चा
Atal Bihari Vajpayee

अटल जी कहते थे, “मेरी कविता जंग का एलान है, यह पराजय की प्रस्तावना नहीं | वह हारे हुए सिपाही का नैराश्य-निनाद नहीं, जूझते यौद्धा का जय संकल्प है, वह निराशा का स्वर नहीं, आत्मविश्वास का जयघोष है |”

0 192
sailing-boat

मैं नाव के अगले माईन पर बैठा था और मेरी नजरें जलकुंभी के फूलों पर टिकी थी जो धीरे-धीरे मेरे पास आती जा रही थी । करमी के फूलों की पृष्ठभूमि में उसकी खूबसूरती और बढ़ गई थी।

0 97

MENU

Back