आंवला के अनेकों फ़ायदे


amla


आयुर्वेद में अपना ख़ास स्थान रखने वाला फल “आंवला” जिसे प्रकृति ने हमें वरदान के रूप में दिया है.
 विभिन्न व्यंजनों के रूप में हमलोग इसका प्रयोग करते है, जैसे मुरब्बा, मिठाई, जैम, पाउडर, अचार, जूस आदि हमारे स्वस्थ के लिए बहूत ही लाभकारी होते है. सर्दी के मौसम में इसका प्रयोग बहूत फायदेमंद होता है.  इसमें विटामिन C भरपूर मात्रा में होता है. तो आइये जानते हैं इसके और बहूत सारे फ़ायदे.


1. विटामिन C की प्रचुरता 

प्रत्येक इंसान को प्रतिदिन 50 मिली ग्राम विटामिन सी की जरूरत होती है तो ऐसे में अगर आप एक आंवला खाते हैं तो आपको दो संतरे के बराबर विटामिन सी प्राप्‍त होगा । आंवला में संतरे से भी 20 प्रतिशत अधिक विटामिन सी पाया जाता है । इसके सेवन से त्वचा सम्बन्धी रोग में लाभ मिलता है, त्वचा स्वस्थ और इसमें निखार बनी रहती है ।


2. सर्दी की समस्या में 

सर्दी के मौसम अधिकांश लोगों को खांसी और कफ की समस्या रहती है, प्रतिदिन के इसके सेवन से लाभ  होता है । अगर आवाज बैठ गई हो, तो पिसे आंवले की फंली लें लाभ होगा ।


3. आंखों के लिए लाभदायक 

अगर आपका नेत्र ज्योति कम है व तनाव या किसी वजह से नींद नहीं आने की समस्या से परेशान हैं । तो आंवले का रस बहूत ही फायदेमंद है, रस पिने से नेत्र ज्योति बढती है एवं नींद नहीं आने की समस्या खत्म हो जाएगी ।


4. रोग प्रतिरोधक के रूप में 

अगर आप ताजा आंवला का रस शहद में मिलाकर पियेंगे एवं इसके बाद ऊपर से दूध पियेंगे तो इससे स्वास्थ अच्छा रहेगा, दिन भर प्रसन्नता का अनुभव होगा, नई शक्ति व चेतना प्राप्त होगी एवं यौवन बहार आयेगा । इसमें रोग प्रतिरोधक छमता होती है, यह छोटे-मोटे रोगों से बचाने में महत्वपूर्ण है ।


5. नक्‍सीर फूटनें में फायदेमंद ( नाक से खून )

यदि आपको बहुत दिनों से नाक से खून आना बंद नहीं हो रहा है तो आंवला के रस की कुछ बूंदे नाक में डाल लें इससे बहूत कम समय में खून बहना बंद हो जाएगा। अगर आप को नक्‍सीर की समस्‍या हमेशा से ही रहता हो तो सूखा आंवला रात में भिगाकर उस पानी से सर धोयें। आंवले का मुरब्बा खायें, आंवला का जूस पीना शुरु कर दें और आमले के पेस्‍ट को सिर पर लगायें बहूत लाभ होगा ।


एवं इसके और महत्वपूर्ण फ़ायदे

  • आंवला गंजेपन और बालों के सफ़ेद होने की समस्या को रोकता है, बाल से संबंधित समस्या के लिए आंवला आपके लिए वरदान हो सकता है ।

  • अगर आप मुंह के छाले की समस्या से परेशान है तो आंवला का जूस बहूत ही फायदेमंद है इसके जूस को आधे कप पानी के साथ मिला कर रोजाना कुल्ला करने से आपको लाभ होगा ।

  • प्रतिदिन आंवला का जूस पीने से एवं इसके रस में शहद मिला कर खाने से आपका शुगर लेवल बिल्‍कुल कंट्रोल में आ जाएगा और आपको मधुमेह की समस्या में लाभ मिलेगा 

  • अगर आप को सिरदर्द है तो आंवला को पीस कर उसके पेस्‍ट को अपने सिर पर लगाइये, इससे जल्द ही सिरदर्द दूर हो जएगा ।

  • अगर आपको खुजली की समस्‍या एवं एक्जीमा जैसी बीमारी है तो आंवला के पाउडर को किसी भी तेल में मिलाइये और उससे खुजली वाली जगह पर मसाज कीजिये ।

  • गर्भवस्था के दौरान अगर उलटी हो रहा हो तो आंवला का मुरब्बा खाएं लाभ होगा ।

  • गर्मीओं में चक्कर आयें तो आवले का सरबत पियें लाभ होगा ।

  • मूत्राशय में अगर पथरी है तो आंवला का चूर्ण मुली में भर कर खाएं लाभ होगा ।

  • आंवले के चूर्ण का उबटन चेहरे पर लगाने से चेहरा साफ होगा और दाग धब्बा दूर होगा ।

  • रात को आंवला का चूरण पानी में भिंगो कर पानी पिने से पेट साफ़ होता है और पाचन शक्ति बढती है ।

  • आंवला के सेवन से रक्तचाप नियंत्रित रहता है ।

इतना ही नहीं हिन्दू धर्म में यह धार्मिक रूप से भी महत्वपूर्ण माना जाता है ।

  • ऐसी बातें प्रचलित हैं, की यदि कोई महिला शुक्ल पक्ष की पंचमी के दिन आंवला के पेड़ के नीचे बैठकर पूजन करती है तो वह जीवन भर सौभाग्यशाली रहती है ।

  • यदि आंवला के वृक्ष के नीचे ब्राहमणों को भोजन कराकर दान दिया जाय तो उस वक्ति की अनेक समस्यायें दूर होती तथा कार्यों में सफलता प्राप्त होती है ।

  • यदि कोई आंवला का एक पौधा लगाता है तो उस व्यक्ति को एक राजसूय यज्ञ करने के बराबर फल मिलता है ।

जी हाँ मित्रों आंवला का स्वाद भले ही कसैला होता है परंतु यह बहुत सारे गुणों से युक्त है । इसके गुणों के कारण इसे “धातृ फल” भी कहा जाता है, धातृ का अर्थ होता है । पालन-पोषण करने वाला अर्थात “मां

Previous कवि सुमित्रानंदन पंथ की कविताएँ
Next हमें नव वर्ष पर संकल्प लेना चाहिए

2 Comments

  1. pramodraj
    December 30, 2015
    Reply

    What a punch line

  2. Deepak Gupta
    December 30, 2015
    Reply

    Nycccccccccccc

Leave a reply

Your e-mail address will not be published. Required fields are marked *