बेंजामिन फ्रैंकलिन के प्रेरक विचार


benjamin-franklin quotes in hindi

महान लेखक, व्यंगकार, वैज्ञानिक, आविष्कारक, सैनिक, राजनितिक व सामाजिक कार्यकर्त्ता, एवं संयुक्त राज्य अमेरिका के संस्थापकों में से एक थे. आईए पढ़े बेंजामिन फ्रैंकलिन महोदय के प्रेरणात्मक विचार एवं इनके द्वरा बताए गये 13 गुण.

Quote : A penny saved is a penny earned .

In Hindi : एक-एक पैसा बचाना ही पैसा कमाना है.

Benjamin Franklin / बेंजामिन फ्रैंकलिन

Quote : Half true is often a great lie.

In Hindiअर्ध सत्य अक्सर एक बड़ा झूठ होता है.

Benjamin Franklin / बेंजामिन फ्रैंकलिन

Quote :. Which they want to be able to have patience.

In Hindiजिसके पास धेर्य है,  जो चाहे वो पा सकता है.

Benjamin Franklin / बेंजामिन फ्रैंकलिन

Quote : Creditors have better memories of his creditors.

In Hindiलेनदारों की यादास्त देनदारों से अच्छी होती है.

Benjamin Franklin / बेंजामिन फ्रैंकलिन

Quote : God helps him who helps himself.

In Hindiईश्वर उसकी मदद करता है, जो स्वयं अपनी मदद करता है.

Benjamin Franklin / बेंजामिन फ्रैंकलिन

Quote : Contentment makes poor rich, the rich poorer discontent.

In Hindiसंतोष गरीबों को अमीर बनता है, असंतोष अमीरों को गरीब.

Benjamin Franklin / बेंजामिन फ्रैंकलिन

Quote : Write something worth reading or do something which is worth writing.

In Hindiकुछ ऐसे लिखें जो पढने लायक हो या कुछ ऐसा करें, जो लिखने लायक हो.

Benjamin Franklin / बेंजामिन फ्रैंकलिन

Quote : Be ignorant is not so much a shame, as the desire to keep learning.

In Hindiअज्ञानी होना उतने शर्म की बात नहीं है, जितना की सिखने की इच्छा न रखना.

Benjamin Franklin / बेंजामिन फ्रैंकलिन

Quote : Certainly nothing is permanent in this world, except death and taxes.

In Hindiनिश्चित रूप से इस दुनिया में कुछ भी स्थायी नहीं है, सिवाय मौत और करों के.

Benjamin Franklin / बेंजामिन फ्रैंकलिन

Quote : Be careful with small expenses. A small hole is large ship sinks.

In Hindiछोटे-छोटे खर्चों से सावधान रहिए । एक छोटा-सा छेद बड़े जहाज को डुबो देता है.

Benjamin Franklin / बेंजामिन फ्रैंकलिन

Quote : Twenty-year-old man willingly walks, thirty and forty of wit in his estimation.

In Hindiबीस साल की उम्र में इंसान अपनी इच्छा से चलता है, तीस में बुद्धि से और चालीस में अपने अनुमान से.

Benjamin Franklin / बेंजामिन फ्रैंकलिन

फ्रैंकलिन महोदय ने 1726 इश्वी में तेरह गुणों का योजना प्रस्तुत किया जिसका विवरण निम्नांकित है. जिसका इन्होंने अपने जीवन में भी अभ्यास जरी रखा.

“विनम्रता” – प्रभु और विद्वानों का अनुगमन करो.

Benjamin Franklin / बेंजामिन फ्रैंकलिन

“स्वच्छता” –  शरीर, वस्त्र, या घर में गन्दगी बर्दाश्त न करो.

Benjamin Franklin / बेंजामिन फ्रैंकलिन

“मौन” –  वही बोलो जिससे तुम्हारा या दूसरों का लाभ हो; क्षुद्र बातचीत से बचो.

Benjamin Franklin / बेंजामिन फ्रैंकलिन

“संयम” –  इतना ही खाओ कि आलस्य ना आए; इतना ना पियो कि नशा हो जाए.

Benjamin Franklin / बेंजामिन फ्रैंकलिन

“शांति “ –  तुच्छ बातों पर या आम अथवा अपरिहार्य दुर्घटनाओं से परेशान न हो.

Benjamin Franklin / बेंजामिन फ्रैंकलिन

“मितव्ययिता” –  अपने या दूसरों के भले के लिए ही खर्च करो, अर्थात्, बर्बाद मत करो.

Benjamin Franklin / बेंजामिन फ्रैंकलिन

“निग्रह” –  अतिवाद से बचो; क्रोध में चोट करने से बचो तब भी जब तुम्हे लगता है वे हकदार हैं.

Benjamin Franklin / बेंजामिन फ्रैंकलिन

“न्याय” –  घायल करके किसी को गलत मत बनाओ, या वे लाभ देने से मत चूको जो तुम्हारा कर्तव्य है.

Benjamin Franklin / बेंजामिन फ्रैंकलिन

“व्यवस्था” –  तुम्हारी सभी चीज़ों की अपनी जगह होनी चाहिए; तुम्हारे हर काम का अपना समय होना चाहिए.

Benjamin Franklin / बेंजामिन फ्रैंकलिन

“संकल्प” –  तुम्हारे लिए जो आवश्यक है उसे करने का संकल्प लो; जिसे करने का संकल्प तुमने लिया है उसे बिना असफल हुए तुम करो.

Benjamin Franklin / बेंजामिन फ्रैंकलिन

“श्रम” –  समय नष्ट मत करो; हमेशा किसी न किसी सार्थक काम में लगे रहो; सभी अनावश्यक कार्यों में कटौती करो.

Benjamin Franklin / बेंजामिन फ्रैंकलिन

“निष्ठा” –  किसी हानिकारक छल का प्रयोग मत करो; निश्छल और न्यायपूर्ण तरीके से सोचो और, यदि बोलो तो, तदनुसार बोलो.

Benjamin Franklin / बेंजामिन फ्रैंकलिन

“शुचिता” –  स्वास्थ्य या संतानोत्पत्ति के लिए ही संभोग का विरले प्रयोग करो और नीरसता, कमज़ोरी या अपने या किसी और की शांति या प्रतिष्ठा के प्रतिकूल इसका प्रयोग ना हो.

Benjamin Franklin / बेंजामिन फ्रैंकलिन
Previous अपना हर पल हर पहर विश्वास से जियें ।
Next लघुकथा - विनम्रता की ताक़त

No Comment

Leave a reply

Your e-mail address will not be published. Required fields are marked *