डॉ० विक्रम साराभाई की जीवनी व विचार


image of vikram sarabhai
डॉ० विक्रम साराभाई
विक्रम साराभाई ( 12 अगस्त 1919 – 30 दिसम्बर 1971 ) देश के प्रमुख वैज्ञानिकों में से थे. उनका जन्म अहमदाबाद गुजरात में अम्बालाल साराभाई और सरला देवी के परिवार में हुआ था. उन्होंने प्राकृतिक विज्ञान में शिक्षा ग्रहण किया. भारत को अंतरिक्ष अनुसंधान के क्षेत्र में नई ऊँचाइयों पर पहुँचाने और अंतर्राष्ट्रीय मानचित्र पर देश की उपस्थिति दर्ज कराने में इनका अहम योगदान है. साराभाई ने अन्य क्षेत्रों जैसे वस्त्र, ओषधि, परमाणु उर्जा, इलेक्ट्रोनिकस आदि में भी समान रूप से योगदान दिया. डॉo साराभाई को भारतीय अंतरिक्ष कार्यक्रम का जनक माना जाता है. भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन ( इसरो ) की स्थापना इनकी महान उपलब्धियों में से है. इन्हें 1962 में शांतिस्वरूप भटनागर पुरस्कार, 1966 में पद्मभूषण पुरस्कार और 1972 में पद्मविभूषण ( मरणोपरांत ) प्रदान किया गया.

डॉ० साराभाई एक महान संस्था बिल्डर और विविध क्षेत्रों में बड़ी संख्या में संस्थानों को स्थापित करने के दिशा में प्रयत्नशील रहते थे. भौतिक अनुसंधान प्रयोगशाला ( PRL ) अहमदाबाद स्थापित करने में उन्होंने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई. उस समय वो मात्र 28 वर्ष के थे, जहाँ उन्होंने 1966 से 1971 तक अपना सेवा दिया. वे परमाणु उर्जा आयोग के अध्यक्ष भी बने तथा अहमदाबाद के कई उद्योगपतियों के साथ मिलकर ‘इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ मेनेजमेंट अहमदाबाद‘ के निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई. तत्पश्चात “इसरो” की स्थापना उनकी महत्वपूर्ण उपलब्धियों में से एक थी. भारत जैसे प्रगतिशील देश के लिए साराभाई ने जो योगदान दिया वो काफी अहम है. कृतज्ञ राष्ट्र सदैव उनका आभारी रहेगा.  

डॉ० विक्रम साराभाई के प्रेरक विचार

आनंद पर हमारा विश्वास हमेशा रहा है, लोगों की उर्जा को फैलने दो.
जो भारी कोलाहल में भी संगीत को सुन सकता हैवह महान उपलब्धि को प्राप्त करता है.
जब आप भीर से उपर खड़े होते हो तो आपको अपने उपर पत्थर फेकने के लिए तैयार रहना चाहिए.
जिस इन्सान के पास समय के लिए सम्मान नहीं और समय की भावना नहीं है वह कुछ कम ही प्राप्त कर सकता है.

[प्रयुक्त तश्वीर गूगल से साभार प्रस्तुत]
Previous हाथ छूटे भी तो रिश्ते नहीं छूटा करते
This is the most recent story.

No Comment

Leave a reply

Your e-mail address will not be published. Required fields are marked *